प्रकाश का परावर्तन और नियम Reflection of Light In Hindi

जब कोई प्रकाश की किरण किसी Light source यानी प्रकाश के स्त्रोत से निकल कर किसी चमकदार सतह से टकराकर वापस लौट जाती है इसे प्रकाश का परावर्तन या Reflection of Light कहते है यह सब एक ही माध्यम में होता है
मान लीजिये की आपके पास एक leaser light है जो बच्चों का खिलौना होता है उसे आप कांच पर फोकस करते है तो light कांच से टकराकर दूसरी जगह पर दिखाई देगी इसे प्रकाश का परावर्तन कहेंगे यहां पर सतह कांच होगा
जो प्रकाश की किरण प्रकाश source से निकलकर सतह पर टकराती है उसे आपतित किरण या incident ray कहते हौ और  टकराकर वापस जाने वाली किरण को परावर्तित किरण Reflected ray कहते है
  • सतह और incident ray के बीच बनने वाले angle को आपतन कोण या Angle of incidence कहते है
  • सतह और परावर्तित किरण के बीच बनने वाले कोण को परावर्तन कोण या Angle of Reflection कहते है
  • आपतित किरण सतह पर जिस बिंदु पर पड़ती है उसे आपतन बिंदु कहते है
  • सतह पर एक लम्ब जो काल्पनिक रेखा होती है उसे अभिलंब कहते है

परावर्तन के नियम या Law of Reflection

  • प्रकाश के परावर्तन में आपतन कोण और परावर्तन कोण का मान हमेशा समान होता है
  • आपतित किरण,परावर्तित किरण,अभिलंब और आपतन बिंदु सभी एक ही तल में होते है
परावर्तन क्या है और इसके नियम आपको समझ मे आ गए होंगे simple है कोई Question हो तो comment में लिखें और इसे share करें अपने friends से नीचे buttons है

2 comments on “प्रकाश का परावर्तन और नियम Reflection of Light In Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *