बल आघूर्ण की परिभाषा | सूत्र | उदाहरण

बल आघूर्ण किसे कहते है सूत्र परिभाषा
बल आघूर्ण (torque) की परिभाषा-
आघूर्ण एक ऐसा बल होता है जो किसी भी शरीर की घूमने की गति को बदल देता है यह किसी भी शरीर या वस्तु को तोड़ने मोड़ने वाला बल है

बल आघूर्ण (torque) एक ऐसा बल है जो किसी भी वस्तु को उसकी axis में घूमने में मदद करता है मुख्य रूप से देखा जाए तो यह एक मोड़ने वाला बल है जो किसी भी वस्तु को उसके केंद्र के सामूहिक के इर्द गिर्द घूमने व घुमाने के लिए होता है

बल आघूर्ण का सूत्र-

बल आघूर्ण (torque) लंबित बल के घटक के परिमाण के बराबर होता है जो अक्ष (axis) और बल घटक( component) के बीच की सबसे छोटी दुरी से गुणा किया जाता है

बल आघूर्ण =रोटेशन के एक केंद्र और एक बल के बीच की दूरी × (बल
τ=l × f = flsinθ

इस सूत्र में
τ= torque (N∙m)
F= force vector (N)
L= length vector

बल आघूर्ण एक सदिश राशि है और इसका विमीय सूत्र ML^{2}T^{-2} है

S.I मात्रक न्यूटन मीटर होता है

(केंद्र का द्रव्यमान) वह बिंदु होती है जिसमे आप बल किसी भी दिशा में लगाते है तो वह उसे उस दिशा में घूमने देता है और रोकता नही है
बल आघूर्ण(torque) को भौतिज्ञ विज्ञान में (physics) में एक बल का क्षण(moment of force) भी कहते है

उदाहरण-
1)जब आप किसी बोतल के ढक्कन को मोड़के खोलते और बंध करते हो वह torque या बल आघूर्ण से होता है
2) जब आप किसी पेंसिल को शार्पनर में शार्प करते को वह भी बल आघूर्ण से होता है
3)दरवाज़ा का खोलना और बंद होना भी बल आघूर्ण से होता है

हमे आशा है आपको बल आघूर्ण इसका मात्रक और सूत्र,विमीय सूत्र आपके समझ में आ गया होगा इसे share करें अपने friends के साथ नीचे बटन है कोई प्रश्न हो तो comment बॉक्स में लिखें

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *