Dc Current या दिष्ट धारा किसे कहते है ?इसके उपयोग,गुण,Source

 Direct Current या दिष्ट धारा क्या है और इसके गुण,उपयोग
Direct Current या दिष्ट धारा क्या है या किसे कहते है इसके गुण,उपयोग और source full detail इस page पर है आवेश यानि charge के प्रवाह की मात्रा या दर को धारा कहते है और जब आवेश एक दिशा में बहता है तब इसे दिष्ट धारा यानि Direct current कहेंगे

दिष्ट धारा यानि Direct current में electric charge यानि विधुत आवेश का flow दिशा हीन होता है

Dc current को सबसे पहले Alessandro Volta ने पैदा किया यही दिष्ट धारा के जनक है

Direct Current के source

  • दिष्ट धारा Current Solar cell या Pv cell से मिलती है
  • दिष्ट धारा रासायनिक battery से मिलती है
  • दिष्ट धारा को Dc generator से पैदा किया जा सकता है 

दिष्ट धारा या Direct current के गुण

  • Dc का Flow एक दिशा में होता है
  • यह रासायनिक प्रभाव दर्शाती है
  • यह चुम्बकीय प्रभाव दर्शाती है
  • दिष्ट धारा उष्मीय प्रभाव दर्शाती है
  • यह plus से minus की ओर बहती है
  • Dc को Ac से पहले बनाई गई
  • दिष्ट धारा के साथ transformer use नहीं किया जाता है

दिष्ट धारा या Direct current के उपयोग

उपयोग T.v Remote,दीबाल घडियो में डालने वाले cell Dc होते है

  • हाथ घड़ियों में जो cell डलता है उसमे दिष्ट धारा ही होती है
  • T.v Remote,दीबाल घडियो में डालने वाले cell Dc होते है
  • Mobile battery में भी 3.7 volt  और laptop battery में 14-15 volt की दिष्ट धारा ही होती है
  • Mobile charger की पिन में से भी दिष्ट धारा ही निकलती है जो मोबाइल charge करती है
  • Drons में लगने वाली 11.2 volt की lipo battery में दिष्ट धारा होती है
  • Radio wave signal का पूरा system dc पर आधारित होता है
  • telecommunications system operating के लिए 48-72 volt की dc का use होता है
I hope आपको Dc Current यानि दिष्ट धारा से related पूरी जानकारी मिल गई होगी इसे share करें social media पर नीचे Button है और कोई सवाल हो तो comment कर सकते है और ऐसी जानकारी पाते रहने के लिए subscribe करें

Comments