Magnetic Effect of electric Current in Hindi

Magnetic Effect of electric Current


electric Current का magnetic effect जब किसी Conductor Wire या तार मैं current flow किया जाता है तब उस wire के आसपास चुंबकीय क्षेत्र या magnetic field create होता है यह सबसे पहले बताया Oersted ने उन्होंने उस current flow हो रहे Conductor Wire के पास एक Compass या चुंबकीय सुई को पास ला कर देखा तो चुंबकीय सुई अपनी जगह से rotate हुई या हिली या विछेपित हुई इसके लिए मेने एक इमेज भी दी है और current का मान बढ़ा देंगे पर या increase करने पर वह ज्यादा विछेपित हुई और उन्होंने देखा कि Conductor Wire या तार में लगे बैटरी के टर्मिनल को बदल देने पर यानि कि प्लस-माइनस पहले से उसे बदलकर माइनस-प्लस कर देने पर चुंबकीय सुई या कंपास में लगी सुई की दिशा बदली ,जाहिर सी बात है कि कोई चुंबकीय सुई अपनी जगह बदलेगी उसका मतलब है पास में कोई और magnetic field है जो भी अपनी जगह से हटने या change करने को मजबूर कर रही है उन्होंने यह 1820 में बताया था
Wireless Electricity कैसे बनाएं ?
Voltage क्या है?इसे कैसे मापते है 

thanks physicscapsule.com

Magnetic Field या चुंबकीय क्षेत्र क्या है 

बहुत ही simple तरीके से कह सकते है कि चुंबकीय क्षेत्र या magnetic field वह Area है जहाँ तक किसी magnet का effect या प्रभाव रहता है इसे B से दर्शाते है इसको Tesla में मापते है 

intensity of magnetic field

चुंबकीय क्षेत्र में रखा कोई अवयव जितने बल का अनुभव या feel करता है उसे चुंबकीय क्षेत्र की तीव्रता या intensity of magnetic field कहते हैं
जैसे किसी नदी में आप खड़े हैं और पानी बह रहा है पानी आप पर बल लगाएगा



 The Biot–Savart law


Oersted के बाद ampere ने उस चुम्बकीय सुई के विछेपित होने की direction को बताया इनके बाद बायो सेवर्ट ने पैदा हुए चुंबकीय क्षेत्र या चुंबकीय क्षेत्र की तीव्रता find करने के लिए अपने रिसर्च किये और उन से एक फॉर्मूला क्रिएट किया जिसमे wire के छोटे भाग dl के कारण(dl wire का ही हिस्सा है इसलिए उसमे भी magnetic power होगी) ,पास में एक point P पर Intensity of magnetic field इन बातों पर depend होगी -
  1. यदि current I माने तो उस wire में flow हो रहा करंट चुंबकीय क्षेत्र की तीव्रता या intensity of magnetic field के समानुपाती होगी                                                                                              B∝I  ----------------(1)                                                  यानि की wire का current increase और decrease कर देने पर Intensity of magnetic field भी increase और decrease होगी यदि Intensity of magnetic field B है                                                                                                                                                                                             
  2. छोटा सा भाग dl की लम्बाई भी Intensity of magnetic field के directly propotional होगी                                                                                                                                                   B∝dI-------------------(2)                                                                      जितनी ज्यादा भाग के कारण Intensity of magnetic field चाहिए होगी उसी के अनुशार  उस भाग की लम्बाई को बडाने पर Intensity of magnetic field भी बड जाएगी                            
  3. यदि point P से wire के छोटे भाग dl पर एक लम्ब डालें तब उन दोनों के बीच बनने बाले कोण ѳ की sin भी Intensity of magnetic field के समानुपाती होती है                                                                      B∝sinѳ-------------------(3)                                                               
  4. wire के छोटे से हिस्से से उस point की दूरी r का वर्ग, Intensity of magnetic field के समानुपाती या inversely proportional होती है                                                                                                                         point P पर Intensity of magnetic field सिर्फ I,dl,ѳ,r पर depend करती है करती है इन सभी समीकरणों से-
wire के कारण point p पर चुंबकीय क्षेत्र की तीव्रता इस प्रकार होगी-
           
यहाँ पर k एक constant है जिसका मान-
m.k.s-1,S.I etc.में अलग-अलग होता है 
इन सूत्रों से हम Oersted द्वारा बताई गई magnetic field ज्ञात कर सकते है 

Electromagnet

electromagnet बनाएं जैसा की image में दिख रहा है यदि हम इंसुलेटेड copper का तार ले और एक soft  लोहे की रोड लें तांबे की तार के फेरे उस नरम लोहे की रोड पर लपेट दे और उस तांबे के तार मैं current flow करें  तो तो वह तो है रोड magnet बन जाएगा 
मैंने elecromagnet बनाने के लिए अपने डिवाइडर का यूज़ किया उस पर मैंने इस पर कॉपर वायर के फेरे लपेटे और करंट flow किया इससे magnetic field पैदा हुई और जब लोहे की पिन को उसके पास में लाया तो वह उससे आकर्षित करने लगी यदि मैं बहुत अच्छी पावरफुल मेग्नेट बनाना चाहूं तुम मुझे ज्यादा कॉपर के wire के फेरे और पहले से ज्यादा धारा flow करने का की जरूरत होगी आप भी ट्राई करके देखें
  • यदि उस wire मैं current  बढ़ा दिया जाये तो magnet की power भी बढ़ जाएगी 
  •  यदि कॉपर वायर के फेरों की संख्या बढ़ा दी जाए तब भी magnet की power भी बढ़ जाएगी
यह elecromagnet electric current का सबसे बढ़िया magnetic effect है यदि मेने किसी बायर के पास एक magnet को जोर से घुमाया चलाया तो उस बायर में electric current जनरेट हुआ यह हम voltmeter में देख सकते हैं यह इलेक्ट्रो मेग्नेट की working का अपोजिट रिएक्शन है electromagnet के लिए
जब हम wire में current flow कर रहे थे जब उसने अपना magnetic दिखाया और जब हमने wire के पास किसी magnet को जोर से हिलाया था तब electric current generate हुआ और यह तीनों में समानता है पर एक चीज मैंने गौर की कि इसमें दो नहीं तीन चीजें हैं magnetic फील्ड electric फील्ड और force, चुंबकीय सुई या दिशा सूचक यंत्र को wire के पास लाने पर सुई ने अपनी जगह change की जब उस पर force लगा जिसे बल आघूर्ण या mooment of force कह सकते है यहां पर हमारे पास electric current था और magnetic(चुम्बकीय सुई) थी इन दोनों से force generate हुआ और किसी wire के पास magnet जोर से घुमाने या चलाने पर wire में curent generate हुआ यह dc motor पर भी काम करता है की dc motor को घुमाने पर current बनता है

Comments